GULKAND RECIPE / How to make Gulkand at home / Rose Petal Jam / गुलाब के फूल से गुलकंद कैसे बनाएं


गुलकंद पकाने की विधि

Gulkand गुलाब की पत्तियों में से बनाया जाता हैं। यह शब्द फारसी से लिया गया है, गुल यानि गुलाब और कंद means चीनी या मीठा भी कह सकते है। इसे रोज़ जैम भी कहा जाता है। यह स्वादिष्ट तो है ही, साथ साथ बच्चों से लेकर बड़ों तक सबके लिए इसका सेवन स्वास्थ के लिए फायदेमंद माना जाता है। इसे खाने से गरमी के मौसम में ठंडक होती है जिसके कारण हमें राहत रहती है और इससे दिमाग भी शांत रहेता है। यह एक अच्छा mouth frashner भी है।

gulkand-recipe-step-by-step-with-pictures

TODAY WE WILL LEARN HOW TO MAKE GULKAND. IT IS MADE UP OF FRESH PETALS OF ROSE FLOWERS, SUGAR, CARDAMOM POWDER & HONEY. DUE TO ITS SWEET TASTE & GOOD AROMA, IT IS ALSO USED IN MANY DELICIOUS FOODS. GULKAND IS ALSO KNOWN AS ROSE MARMALADE.

  • CUISINE :- INDIAN SWEET DISH
  • COURSE :- SWEET, DESSERT
  • KEYWORD :- GULKAND BANANE KI VIDHI, ROSE PETAL JAM
  • DIET/MEAL TYPE :- VEGETARIAN
  • PREPARATION  TIME :- 10 MINUTES
  • COOK TIME :- 8-10 MINUTES
  • RESTING TIME :- ½ HOUR + ½ HOUR
  • TOTAL TIME :- ABOUT 1 HOUR 20 MINUTES
  • SERVING  TEMPERATURE :- ROOM TEMPERATURE
  • SERVINGS  :-
  • TASTE :- SWEET
How to make Gulkand at home / Rose Petal Jam / गुलाब के फूल से गुलकंद कैसे बनाएं.. 1 गुलकंद पकाने की विधि… 1 EQUIPMENTS USED :- 3 NECESSARY INGREDIENTS FOR GULKAND :- 3 INSTRUCTIONS FOR GULKAND RECIPE :- 3 # STEP – 1 PREPARATION.. 3 # STEP – 2 MAKE THE GULKAND.. 4 HOW TO MAKE ROSE MARMALADE (GULKAND) FROM ROSE PETALS – STEP BY STEP WITH PICTURES (गुलाब के फूल से गुलकंद बनाने की विधि – विस्तृत फोटो के साथ) 6 Use of the gulqund. 6 HELTH BENEFITS OF ROSE JAM… 6  

EQUIPMENTS USED :-

  • HARD ANODIZED WOK / KADAI
  • SPOON (SPATULA)
  • SIEVE
  • KITCHEN TOWEL
  • GLASS JAR

 

NECESSARY INGREDIENTS FOR GULKAND :-

  1. गुलाब की पंखुड़िया (rose petals) – 200 gram
  2. चीनी – 100 gram
  3. ईलाईची पाउडर – 1 टीस्पून
  4. शहद – 1 टेबलस्पून  
  5. पानी – गुलाब की पंखुड़िया धोने के लिए

 

INSTRUCTIONS FOR GULKAND RECIPE

# STEP – 1 PREPARATION

  1. सबसे पहले गुलाब की पत्तियों को साफ पानी में धो लीजिए।
  2. पत्तियों को तुरंत पानी में से निकालकर छलनी में डाल दें, ताकि पानी निथर जाए। 
  3. जब गुलाब की पत्तियों में से पानी निथर जाए तब इन्हें किसी एक साफ kitchen towel पर फ़ैला दीजिए, ताकि पंखुड़ियों में बचा हुआ पानी सूख जाए। (*इस स्टेप से गुलाब की पंखुड़ियों का सारा पानी सूख जाएगा, जिसके कारण गुलकंद की shelf life बढ़ जाएंगी।)
  4. गुलकंद भरने के लिए काँच की jar या किसी container  को गरम पानी से धोकर धूप में सूखा लीजिए।

# STEP – 2 MAKE THE GULKAND

  1. एक कड़ाई या नॉन स्टिक पैन में गुलाब की पंखुड़िया और चीनी डालें।
  2. अब इन्हे अपने हाथ की सहायता से अच्छी तरह मसलें।
  3. इन्हें तब तक मसलें कि  जब तक पंखुड़ियाँ अच्छे से mesh न हो जाए।
  4. अब इस कड़ाई को गैस पर मध्यम आंच पर रखें।
  5. चम्मच या कनछी की सहायता से चलाते हुए पकाए।
  6. 2 से 3 मिनट के बाद आप देखेंगे कि गुलाब की पंखुड़ियों में से पानी छूटने लगा हैं। (*हमें पानी सूखने तक पकाना है।)
  7. कुछ देर बाद चीनी भी गलने लगेगी और इसमें से चाशनी छूटने लगेगी।
  8. जैसे ही चीनी गलने लगें गैस की आंच धीमी कर दीजिए, और इसे सतत चलाते हुए पकाए, ताकि हमारा मिश्रण कड़ाई के तले में चिपक न जाए।
  9. अब इसमें 1 tsp ईलाईची पाउडर डालकर मिक्स कर दीजिए।
  10. अब इसे तब तक पकाए कि जब तक मिश्रण गाढ़ा न हो जाए।
  11. जैसे ही मिश्रण गाढ़ा हो जाए गैस की आंच बंध कर दीजिए और इसे पूरी तरह ठंडा होने दे।
  12. जब गुलकंद ठंडा हो जाए तब 1 tbsp शहद डालकर अच्छी तरह mix कर दीजिए।
  13. हमारा गुलकंद बनकर तैयार है, इसे साफ और सूखे काँच के कंटेनर या बरनी (glass jar) में भरकर रखें।

HOW TO MAKE ROSE MARMALADE (GULKAND) FROM ROSE PETALS – STEP BY STEP WITH PICTURES (गुलाब के फूल से गुलकंद बनाने की विधि – विस्तृत फोटो के साथ)

STEP – 1 PREPARATION

1) सबसे पहले गुलाब की पत्तियों को साफ पानी में धो लीजिए।

gulkand-recipe-step-1(1)

2) पत्तियों को तुरंत पानी में से निकालकर छलनी में डाल दें, ताकि पानी निथर जाए। 

gulkand-recipe-step-1(2)

3) जब गुलाब की पत्तियों में से पानी निथर जाए तब इन्हें किसी एक साफ kitchen towel पर फ़ैला दीजिए, ताकि पंखुड़ियों में बचा हुआ पानी सूख जाए। (*इस स्टेप से गुलाब की पंखुड़ियों का सारा पानी सूख जाएगा, जिसके कारण गुलकंद की shelf life बढ़ जाएंगी।)

gulkand-recipe-step-1(3)

4) गुलकंद भरने के लिए काँच की jar या किसी container  को गरम पानी से धोकर धूप में सूखा लीजिए।

5) गुलकंद बनाने के लिए आवश्यक सामग्री एकत्रित करके रखें, ताकि गुलकंद बनाने में आसानी रहें।

gulkand-recipe-step-1(5)

# STEP – 2 MAKE THE GULKAND

1) एक कड़ाई या नॉन स्टिक पैन में गुलाब की पंखुड़िया और चीनी डालें।

gulkand-recipe-step-2(1)

2) अब इन्हे अपने हाथ की सहायता से अच्छी तरह मसलें।

gulkand-recipe-step-2(2)

3) इन्हें तब तक मसलें कि  जब तक पंखुड़ियाँ अच्छे से mesh न हो जाए।

gulkand-recipe-step-2(3)

4) अब इस कड़ाई को गैस पर मध्यम आंच पर रखें।

gulkand-recipe-step-2(4)

5) चम्मच या कनछी की सहायता से चलाते हुए पकाए।

gulkand-recipe-step-2(5)

6) 2 से 3 मिनट के बाद आप देखेंगे कि गुलाब की पंखुड़ियों में से पानी छूटने लगा हैं। (*हमें पानी सूखने तक पकाना है।)

gulkand-recipe-step-2(6)

7) कुछ देर बाद चीनी भी गलने लगेगी और इसमें से चाशनी छूटने लगेगी।

gulkand-recipe-step-2(7)

8) जैसे ही चीनी गलने लगें गैस की आंच धीमी कर दीजिए, और इसे सतत चलाते हुए पकाए, ताकि हमारा मिश्रण कड़ाई के तले में चिपक न जाए।

gulkand-recipe-step-2(8)

9) अब इसमें 1 tsp ईलाईची पाउडर डालकर मिक्स कर दीजिए।

gulkand-recipe-step-2(9)

10) अब इसे तब तक पकाए कि जब तक मिश्रण गाढ़ा न हो जाए।

gulkand-recipe-step-2(10)

11) जैसे ही मिश्रण गाढ़ा हो जाए गैस की आंच बंध कर दीजिए और इसे पूरी तरह ठंडा होने दे।

gulkand-recipe-step-2(11)

12) जब गुलकंद ठंडा हो जाए तब 1 tbsp शहद डालकर अच्छी तरह mix कर दीजिए।

gulkand-recipe-step-2(12)

13) हमारा गुलकंद बनकर तैयार है, इसे साफ और सूखे काँच के कंटेनर या बरनी (glass jar) में भरकर रखें।

gulkand-recipe-step-2(13)

 Use of the gulqund    

  • इसे आप फ्रिज में स्टोर करके 6 से 8 महीने तक use कर सकते है।
  • इसे आप पान के पत्ते पर लगाकर खा सकते है।
  • Gulkand  का उपयोग करके आप अलग अलग व्यंजनों भी बना सकते है, जैसे कि gulkand – milkshake, lassi, gulkand – ice cream, kulfi, mitha pan, gulkand – burfi, roll, modak, phirni, gulkand – cupcake, muffins, gulkand – rabri, kheer,  gulabjamun, basundi, laddu

HELTH BENEFITS OF ROSE JAM

  • गुलकंद खाने के लिए सबसे अच्छा मौसम गर्मियों का माना जाता है, क्योंकि इसमें शीतलता के गुण होते है इसलिए यह शरीर को ठंडा रखता है साथ में sun strokes, नाक से खून बहेना और चक्कर आने से राहत देने में मदद करता हैं।
  • गुलकंद antioxidants में समृद्ध है और यह energy buster के रूप  में कार्य करता है। गुलकंद का नियमित सेवन करने से हमारी ऊर्जा लेवल बढ़ सकती है।
  • यह पाचन शक्ति को बढ़ाता है।
  • इसके सेवन से सुस्ती और थकान का अहेसास कम होता है।
  • इसका सेवन आंतों के लिए अच्छा होता है और यह पेट के स्वास्थ्य को बेहतर करता है।
  • गुलकंद हीमोग्लोबिन के स्तर को बढ़ाने में मदद करता हैं।

सुझाव :-

  • गुलकंद बनाने के लिए fresh और चमकीलें लाल रंग के गुलाब  की पंखुड़ियां लें, साथ में  खुशबूदार और दाग धब्बे रहित पंखुड़िया का इस्तेमाल करें, क्योंकि इस प्रकार के गुलाब फायदेमंद होते है।
  • गुलाब की पत्तियों को धोकर तुरंत पानी में से बहार निकालकर छनी में रख दें, अगर हम इन्हें पानी में भिगोकर रखेंगे तो गुलाब के पोषक तत्व पानी kमें निकल जाते है।
  • पत्तियों को धोने के बाद कपड़े पर फैलाकर सिर्फ हमें पानी सूखाना है,पत्तिया नहीं सूखनी चाहिए।
  • अगर आप को sweetness ज्यादा पसंद है तो आप चीनी और गुलाब की पंखुड़ियों को बराबर मात्रा में ले सकते है।
  • Gulkand में शहद का उपयोग जरूर करें, इससे चीनी के crystal नहीं जमेंगे। शक्कर जमे नहीं। और शहद स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद है।

★ Thank you so much for visiting our recipe blog.  

# Your reviews are heartily invited.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: